कोरोना वाइरस से जुड़ी इन 10 झूठी खबरों से सावधान

कोरोना वाइरस से जुड़ी इन 10 झूठी खबरों से सावधान
कोरोना वाइरस से जुड़ी इन 10 झूठी खबरों से सावधान

कोरोना वाइरस को लेकर सोशल मीडिया पर कुछ झूठी खबरें लगातार शेयर हो रही है। हम आपको इनसे जुडी जानकरी यहां आपके लिये पोस्ट कर रहें है। अफवाहों पर ध्यान ना दें और खुद को इससे बचाने के लिये सरकार व प्रशासन द्वारा जारी आदेशों का पालन करें।

10 झूठी खबरों से सावधान –

1- कई लाशों वाली इटली शहर की तस्वीर।
सच्चाई – एक फिल्म कांटेजिअन का सीन है।


2- 498/- का जिओ का फ्री रीचार्ज।
सच्चाई – कंपनी ने ऐसा कोई दावा नहीं किया है।


3- केई लोग जमीन पर पडे सहायता के लिए चिल्ला रहे हैं।
सच्चाई – वर्ष 2014 के एक आर्ट प्रोजेक्ट की तस्वीर है।


4- डॉ रमेश गुप्ता की किताब जंतु विज्ञान में कोरोना का इलाज है।
सच्चाई – नहीं है।


5- मेदांता हास्पिटल के डाॅ नरेश त्रेहान की नेशनल इमर्जेंसी की अपील।
सच्चाई – डॉ त्रेहान ने कोई अपील नहीं की।


6- एक कपल की तस्वीर जो 134 पीड़ितों का इलाज करने के बाद संक्रमण का शिकार हो गए।
सच्चाई – तस्वीर किसी डॉक्टर कपल की नहीं है। एयरपोर्ट पर एक जोड़े की है।


7- कोविड 19 कोरोना की दवा।
सच्चाई – यह दवा नहीं, जांँच किट है।


8- कोरोना वायरस का जीवन 12 घंटे तक।
सच्चाई – 3 घंटे से 9 दिन तक।


9- रूस में 500 शेर सड़कों पर।
सच्चाई – एक फिल्म का सीन है।


10- इटली की ताबूत वाली तस्वीर।
सच्चाई – यह 7 वर्ष पुराने एक हादसे की तस्वीर है, कोरोना से इसका कोई संबंध नहीं है। (स्त्रोत – भास्कर पडताल)
मित्रों झूठी अफवाहों के बहकावे में आकर अपना धैर्य न खोएं। पोस्ट को शेयर कर सभी तक सही जानकारी प्रेषित करैं। आपका विवेक और धैर्य ही आपका साथी है। घर में रहैं, सुरक्षित रहैं।
… शुभकामनाएंँ ।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*